देवभूमि उत्तराखंड की प्रतिभाएं जिन्होंने अपने अभिनय से बॉलीवुड में विशेष मुकाम हासिल किया

देवभूमि उत्तराखंड की कई प्रतिभाओं ने बॉलीवुड में अपने एक्टिंग के दम पर नाम कमाया है और देव भूमि उत्तराखंड का नाम रोशन किया है । आज हम जानेंगे कुछ ऐसे कलाकारों के बारे में जिन्होंने बॉलीवुड में अपनी काबिलियत के दम पर पहचान बनाई है, शुरुआत करते है सायरा बानो से – सायरा बानो Source: Google Search सायरा बानो का जन्म 23 अगस्त 1944 को मसूरी उत्तराखंड में हुआ था । इस समय सायरा बानो की उम्र 75 वर्ष है । सायरा बानो को ग्लैमरस गुड़िया भी कहा जाता…

Read More

कश्मीर जैसे वादीयों का लुफ़्त लेना हो तो आए पिथौरागढ़

Hiljatra Pithoragarh

हिमालय के पहाड़ों का प्राकृतिक मनोरम दृश्य और छोटा कश्मीर देखने चले पिथौरागढ पिथौरागढ़ देवभूमि उत्तराखंड (Pithoragarh in Uttarakhand) के पूर्व में स्थित एक सीमांतर जिला है,जिसके उत्तर में तिब्बत, पूर्व में नेपाल और दक्षिण में अल्मोड़ा जिला तथा उत्तर- पश्चिम में चमोली जिला लगता है । पिथौरागढ़ को उत्तराखंड के प्रसिद्ध हिल स्टेशन के तौर पर जाना जाता है । यह दिल्ली से 350 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है तथा समुद्र तल से इसकी ऊंचाई 1650 मीटर है । पिथौरागढ़ को सोरघाटी के नाम से भी जाना जाता…

Read More

गंगोलीहाट : हाट कालिका मंदिर आम जनमानस के साथ सेना के जवानो का भी है आस्था का केंद्र

Gangolihat_image

गंगोलीहाट (Gangolihat) उत्तराखंड के पिथौरागढ़ जिले में स्थित है गंगोलीहाट (Gangolihat) । गंगोलीहाट नगर की ऊंचाई समुद्र तल से 1760 मीटर है । गंगोलीहाट को एक छोटे हिल स्टेशन के रूप में भी जाना जाता है । गंगोलीहाट जनमानस के अलावा सेना के जवानों का भी आस्था का केंद्र है । यहां पर हाट कालिका मंदिर है,जहां पर जन मानस के अलावा सेना के जवान भी दर्शन करने के लिए आते रहते हैं । कहा जाता है कि द्वितीय विश्वयुद्ध के दौरान जब भारतीय सेना का जहाज डूबने लगा था…

Read More

रानीखेत नहीं देखा तो क्या देखा ? वादियों का मनमोहक प्राकृतिक सौंदर्य

Ranikhet image

रानीखेत (Ranikhet) उत्तराखंड के अल्मोड़ा जिले के अंतर्गत आता है । रानीखेत प्रकृति की गोद में बसा हुआ एक छोटा हिल स्टेशन है । रानीखेत की नैसर्गिक शांति काफी आकर्षक है । रानीखेत को पहाड़ों की रानी के नाम से भी लोग जानते हैं । रानीखेत के चारो ओर दूर दूर तक घाटियों फैली हुई है,हर जगह प्रकृति का मनमोहक सौंदर्य देखने को मिलता है । रानीखेत अल्मोड़ा से 50 किलोमीटर और नैनीताल से 65 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है । रानीखेत समुद्र से 1800 मीटर की ऊंचाई पर…

Read More

ऐपन : उत्तराखंड की कला संस्कृति 

ऐपन Aipan

ऐपन (Aipan) का शाब्दिक अर्थ लिपना या सजावट से है जो किसी मांगलिक या धार्मिक अवसर पर की जाती है | हमारे उत्तराखंड में एपण का अत्यधिक महत्व है उत्तराखंड की ये संस्कृति सभी शुभ कार्यों से पूर्व देहली में, देवताओं के स्थानों पर, मंदिरों और त्योहारों में पवित्र स्थानों पर बनाई जाती हे। इन ऐपणो को बनाने के लिए सबसे पहले ऐपन वाले स्थान पर गेरू (लाल मिट्टी) से लिपाई की जाती है फिर सूख जाने पर चावल को भिगाकर एवं पीसकर उसमें पानी डालकर उसे पतला कर लिया…

Read More

Uttarakhand GK In Hindi Set 3 [2020]

Uttarakhand GK In Hindi

Uttarakhand GK In Hindi Set 3 Asked Question Paper Here we have collected some important General Knowledge question related to Uttarakhand GK (Uttarakhand General Knowledge) which will cover Uttarakhand Group C exam, Utttarakhand LT Exam and many other competitive exam related to Uttarakhand . 1. जागेश्वर के मुख्य मन्दिर के भीतर किस राजा की मूर्ति है ? (A) कल्याणचंद (B) रूद्रचंद (C) दीपचंद्र (D) इनमें से कोई नहीं Answer :- C 2. शंकर गुफा कहाँ स्थित है ? (A) बागेश्वर (B) कोटद्वार (C) श्रीनगर (D) देव प्रयाग Answer :- D…

Read More

शिक्षा व्यवस्था में सकारात्मक बदलाव की ज़रूरत

GIC Rai Agar

मन का विचलित हो उठना भी शुभ संकेत है तभी आप उन कारणों को तलाशने की कोशिश करते हो और जब कारण का पता चल जाए तो आप उसका हल निकाल ही लेते हो | ऐसे ही एक सुबह मेरा मन अपने प्राथमिक विद्यालय जाने का हुआ, पता करने पर ज्ञात हुआ कि अब न तो पहले जैसी छात्र संख्या रही हें और ना ही शिक्षक संख्या, स्कूल बंद होने की कगार पर खड़ा है| मन कुंठित हो उठा यह जानकर कि न सिर्फ मेरे स्कूल का यह हाल है…

Read More

Uttarakhand GK In Hindi Set 2 [2020]

Uttarakhand GK In Hindi

Uttarakhand GK In Hindi Asked Question Paper Set 2 Here we have collected some important General Knowledge question related to Uttarakhand GK (Uttarakhand General Knowledge) which will cover Uttarakhand Group C exam, Utttarakhand LT Exam and many other competitive exam related to Uttarakhand . निम्न में से कौन एक उत्तराखण्ड के इतिहास कार नहीं है? (A) हरीड्डष्ण खूड़ी (B) ब्रदीदत्त पाण्डेय (C) चन्द्रसिंह गढ़वाली (D) शिव प्रसाद डवराल Ans (C)   उत्तराखण्ड के प्रसिद्ध ऐतिहासिक स्थल गोविषाण की पहचान की गयी हैं- (A) हरिद्वार में (B) काशीपुर में (C) रुद्र…

Read More

कौतिक – कुमाउँनी संस्कृति का अभिन्न अंग

सांस्कृतिक पर्व – उत्सव किसी भी देश की वो रंगीन धरोहर होते हैं जो वहाँ की कलात्मक परंपरा की सोंदर्यता का चित्रण एक अलग ही अंदाज़ में बयान करते हैं. और जब ऐसी कलात्मक संस्कृति का परिचय हो तो भारत उसमे अग्रणी स्थान अर्जित करता हैं. भारत के सभी राज्यों में ऐसी परंपरा के रुझान को सुचारु रूप से सक्रिय रखने में एक अभूतपूर्व उत्सव के तौर कई छोटे और बड़े पैमाने पर समय समय में विभिन्न लोक – सांस्कृतिक पर्वो को मनाया जाता हैं. और यही देश की विभिन्ता…

Read More

उचित  संवाद सकारात्मक बदलाव के लिए जरूरी है

devbhoomi blog

अक्सर आजकल लोग दो पीढ़ियों के बीच जनरेशन गैप आने की बात करते हैं परंतु मेरा मानना है कि उससे कहीं ज्यादा हानिकारक होता है कम्युनिकेशन गैप यानी कि खुलकर बातचीत का ना होना | आज जीवन में बढ़ती व्यस्तता के साथ, गांव से शहरों की ओर पलायन होने से पुरानी पीढ़ी और नई पीढ़ी के बीच यह कम्युनिकेशन गैप बढ़ता ही जा रहा है जिसकी वजह से कई सारी गलतफहमियां एवं मतभेद पैदा हो गए हैं जैसे कि जहां पुरानी पीढ़ी, नई पीढ़ी को मॉडर्न  यानी कि आधुनिकता एवं…

Read More