देवभूमि न्यूज़हरिद्वार

हरिद्वार : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से पहले संतों ने गंगा तट पर किया योगाभ्यास

हरिद्वार : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस से पहले रविवार को हरिद्वार में संतों ने गंगा नदी के तट पर योग का अभ्यास किया। हरिद्वार में कई संतों का मानना ​​है कि योग सभी बीमारियों से छुटकारा पाने का एक सरल साधन है। यह इस समय COVID-19 महामारी के प्रकोप से बचने में मददगार है साथ ही अन्य बीमारी से राहत व सुरक्षा प्रदान करता है। यंग इंडिया साधु के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष योग गुरु आनंद गिरी ने कहा, “योग करने से हम स्वस्थ रहते हैं। योग का सदियों से अभ्यास किया जाता रहा है। कोरोनावायरस महामारी हो या कोई अन्य बीमारी, योग इन सभी से छुटकारा पाने का साधन है।

बता दे अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Day of Yoga – IDY) हर साल 21 जून को मनाया जाता है। इस वर्ष इस योग दिवस का विषय ‘योग फॉर वेलनेस’ है, और यह शारीरिक और मानसिक कल्याण के लिए योग का अभ्यास करने पर केंद्रित है।

 COVID-19 महामारी के मद्देनजर, अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (IDY) 2021 का प्रमुख कार्यक्रम  टेलीविज़न पर सीधे प्रसारित किया गया। जिसे सभी दूरदर्शन चैनलों पर सुबह 6.30 बजे प्रसारित किया गया है। इस मौके पर सुबह करीब साढ़े छह बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भाषण ने योग के महत्व पर भाषण दिया। प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में सबसे पहले अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर देशवासियों को बधाई दी और कोरोना वायरस महामारी के मुश्किल दौर में लोगों को योग करने के लाभ के बारे में बताया।

 प्रधानमंत्री ने कहा जब पूरी दुनिया कोरोना वायरस महामारी से लड़ रही है ऐसे में योगी आशा की किरण बन गया है। उन्होंने कहा कि पिछले 2 साल से भारत समेत पूरी दुनिया में कोई भी सार्वजनिक कार्यक्रम आयोजित नहीं किया गया है लेकिन इसके बावजूद योग के प्रति लोगों में जबरदस्त उत्साह बना हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!