History of Uttarakhand | उत्तराखण्ड का इतिहास

History of Uttarakhand | उत्तराखण्ड का इतिहास | Uttarakhand History in Hindi उत्तराखण्ड का इतिहास पौराणिक है। स्कन्द पुराण में हिमालय को पाँच भौगोलिक क्षेत्रों में विभक्त किया गया है:- खण्डाः पञ्च हिमालयस्य कथिताः नैपालकूमाँचंलौ। केदारोऽथ जालन्धरोऽथ रूचिर काश्मीर संज्ञोऽन्तिमः॥ अर्थात् हिमालय क्षेत्र में नेपाल, कुर्मांचल (कुमाऊँ), केदारखण्ड (गढ़वाल), जालन्धर (हिमाचल प्रदेश) और सुरम्य कश्मीर पाँच खण्ड है। पौराणिक ग्रन्थों में कुर्मांचल क्षेत्र मानसखण्ड के नाम से प्रसिद्व था। पौराणिक ग्रन्थों में उत्तरी हिमालय में सिद्ध गन्धर्व, यक्ष, किन्नर जातियों की सृष्टि और इस सृष्टि का राजा कुबेर बताया गया हैं। कुबेर की राजधानी अलकापुरी (बद्रीनाथ से ऊपर) बतायी जाती है। पुराणों के अनुसार राजा कुबेर…

Read More

Places to visit in Nainital in 2 Days| जाने नैनीताल के बारे में 5 दिलचस्प और अज्ञात तथ्य

Nainital place

जाने नैनीताल के बारे में 5 दिलचस्प और अज्ञात तथ्य | Places to Visit in Nainital हिमालय के बीच बसी हुई झील सिटी नैनीताल के बारे में कौन नहीं जानता हर साल लाखों पर्यटक इस खूबसूरत शहर के दीदार करने के लिए दूर दूर से यहाँ आते हैं आप में से बहुत से नैनीताल के प्रमुख पर्यटक आकर्षण (Nainital places to visit) के बारे में पहले से ही जानते होंगे , लेकिन ऐसे कई तथ्य हैं जो इस शहर के बारे में शायद आप नहीं जानते हैं | इस पोस्ट…

Read More