ठंडियों में आयुर्वेदिक हर्ब्स और लाइफस्टाइल से संभाले अपना दिल

ठंडियों में आयुर्वेदिक हर्ब्स और लाइफस्टाइल से संभाले अपना दिल: डॉ अवनीश उपाध्याय

विश्व स्वास्थ्य संगठन के एक सर्वे के अनुसार पूरे विश्व की लगभग तिहाई आबादी दिल की समस्याओं जैसे हाई ब्लड प्रेशर और हर्ट अटैक इत्यादि से ग्रसित है। यह चिंताजनक तथ्य है कि समूचे विश्व में दिल की बीमारियों से हर साल लगभग 17 लाख लोग मरते है।

ऋषिकुल राजकीय आयुर्वेदिक फार्मेसी हरिद्वार के निर्माण चिकित्साधिकारी और उत्तराखण्ड आयुर्वेद विश्वविद्यालय के आयुर्वेद फिजिशियन डॉ अवनीश उपाध्याय बताते हैं कि हृदय रोगों के होने का मुख्य कारण है गलत दिनचर्या और खान पान। आज कल जो मौसम चल रहा है यानी लेट विंटर या शिशिर ऋतु में लापरवाही से हृदय रोग की संभावना अधिक होती है। अधिक चिकनाई युक्त गलत खानपान और विलासिता पूर्ण जीवन से मनुष्य की हृदय की रक्तनलियां अवरूद्ध होने लगती है जिस कारण हृदय रोगों का खतरा बढ़ने लगता है।

आयुर्वेदिक चिकित्सा में उपलब्ध दिव्य वनस्पतियां और दवाई ही नहीं बल्कि आयुर्वेद सिद्धांत में बताए गए जीवन शैली एवं खानपान का पालन करके हम दिल की बीमारियों को कोसों दूर रख सकते हैं। डॉ अवनीश उपाध्याय बताते हैं कि आयुर्वेद के सरल उपायों को अपनाकर आप अपने दिल को मजबूत बना सकते हैं।

amazonsell

अर्जुन के हृदय रोगों में चमत्कारी परिणामों से सभी परिचित हैं इसका छाल हृदय संबंधी समस्याओं को दूर करने में मददगार होती है। इसे गाय के दूध में पकाकर क्षीरपाक बनाकर लेने से हृदय रोगों के होने की संभावना न के बराबर हो जाती है। ब्राम्ही और जटामांसी का सेवन दिल की धड़कन को नियंत्रि‍त करने में लाभकारी है। कुटकी बहुत अच्छी वनस्पति है और इसके सेवन से सभी एंजाइम और कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहने से हृदरोग का खतरा काफी कम हो जाता है।

डॉक्टर उपाध्याय आगे बताते हैं कि हल्दी से हम सभी परिचित हैं और कोरोना काल में हल्दी दूध का सभी ने खूब प्रयोग किया है, हल्दी हमारी प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाने के साथ दिल की सेहत के लिए भी नियमित रूप से इसका सेवन बहुत जरूरी है। हल्दी पर हुए एक अनुसन्धान से ज्ञात हुआ है कि यह शरीर में रक्त को पतला करता है जो ह्रदय अवरोध जैसी समस्या को रोकने में कारगर है।

आयुर्वेद शास्त्र में गाय के दूध को हल्का, सुपाच्य, हृदय को बल देने वाला और बुद्धिवर्धक माना गया है। डॉ आलोक अंत में कहते हैं की अलसी का उपयोग दिल की बीमारियों से बचा सकता है। अलसी में ओमेगा-3 फैटी एसिड पाया जाता है, जो रक्त नलिकाओं में वसा के जमाव को रोकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!