कल्पनाओं को साकार करने वाला वृक्ष : कल्पवृक्ष

दोस्तों कहा जाता है कि देवभूमि के कण कण में 33 करोड़ देवी देवता विराजमान हैं। फिर चाहे वो पत्थर, नदियां, भूमि, हवा, आकाश, पशु, पक्षी या फिर पेड़ ही क्यों ना हो। इस भूमि की अपनी मान्यताएं और अपनी आस्था है जो कि पूरे विश्व में अपनी इसी आस्था कि वजह से अपना अलग स्थान बनाए हुए हैं। दोस्तो आज हम आपको देवभूमि के ऐसे ही एक वृक्ष के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके बारे में कहा जाता है कि ये वृक्ष ना केवल मन्नतें ही पूरी…

Read More