देवभूमि न्यूज़हरिद्वार

हरिद्वार: भारी बारिश के बीच टापू पर फंसे चार मजदूर !

उत्तराखंड  के हरिद्वार में राज्य आपदा प्रतिक्रिया बल ( SDRF ) ने श्यामापुर में एनएचएआई पुल के निर्माण स्थल से चारों मजदूरों को सुरक्षित बचा लिया है

उत्तराखंड  के हरिद्वार राज्य मे आपदा प्रतिक्रिया बल ( SDRF ) ने श्यामापुर में एनएचएआई पुल के निर्माण स्थल से चारों मजदूरों को सुरक्षित बचा लिया है. हरिद्वार पुलिस ( Haridwar Police)  के मुताबिक बीती देर रात अचानक हुई तेज बारिश  के कारण नदी का जल स्तर काफी बढ़ गया था, जिसके चलते मजदूर वहीं फंस गए. सूचना पर तुरंत पहुंचे श्यामपुर पुलिस इंस्पेक्टर अनिल चौहान फोर्स के साथ मौके पर पहुंचे और SDRF कंट्रोल रूप में इसकी जानकारी दी.

सावन का पहला सोमवार थल बालेश्वर महादेव मंदिर में उमड़ी श्रद्धालुओं की भारी भीड़

गंगा और यमुना जैसी नदियों को जल स्तर बढ़ गया

आपको बता दें कि उत्तराखंड में अधिकांश हिस्सों में लगातार हो रही बारिश की वजह से गंगा और यमुना जैसी नदियों को जल स्तर बढ़ गया है. इसके साथ ही कुछ सहायक नदियों में उफान जैसी स्थिति है. वहीं, हरिद्वार पीली नदी वाली घटना के बाद राज्य के मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने पिथौरागढ़ में दो माह के लिए एक हेलिकॉप्टर तैनात करने के निर्देश दिए हैं. वहीं, राज्य के डीजीपी अशोक कुमार ने ट्वीट के माध्यम से हरिद्वार के श्यामपुर क्षेत्र में पुल निर्माण कार्य में जुटे चार श्रमिकों को सुरक्षित बचाए जाने की जानकारी शेयर की. पुलिस महानिदेशक ने बताया कि पुलिस ने घटना की सूचना मिलते ही तुरंत बचाव अभियान शुरू किया, जिसके चलते क्रेन चलाकर सभी श्रमिकों को सकुशन बाहर निकाला गया.

उत्तराखंड की अधिकांश नदियां उफान पर

मिली जानकारी के अनुसार बरसता की वजह से उत्तराखंड की अधिकांश नदियां उफान पर हैं. इनमें गंगा, यमुना, भागीरथी, अलकनंदा, मंदाकिनी, पिंडर, नंदाकिनी, टोंस, सरयू, गोरी, काली, रामगंगा आदि नदियों का भी जल स्तर काफी बढ़ गया है. जिसके चते लोगों को फिलहाल नदियों वाले क्षेत्र से अलग रहने की सलाह दी गई है. जो लोग नदी के किनारे स्थित एक भव्य हवेली में अपना खाली समय बिताना चाहते हैं, वे हरिद्वार जा सकते हैं, जिसे हाल ही में शिवालिक पहाड़ों की तलहटी में एक आईएचसीएल सेलेक्शंस होटल ‘पीलीभीत हाउस’ मिला है.

covid-19 नही हुआ है ख़तम : सरकार ने 27 तक दी नई Guidelines

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!