प्रसिद्ध कुमाऊनी और गढ़वाली मुहावरे [Latest 2020] | Pahari Muhavare

कुमाऊनी और गढ़वाली मुहावरे pahari muhavare

Pahari Muhavare दोस्तो  जेसे की लवदेवभूमी साइट का असली मकसद हैं, उत्तराखंड की परंपरा, धार्मिक मान्यता, भाषा,  संस्कृति, रीति रिवाज और पर्यटन जैसे सभी खूबसूरत एवं परंपरागत विधाओं को देश विदेश तक पहुंचाना है। इसी की ओर एक कदम बढ़ाते हुए आज हम आपके लिए उत्तराखंड की प्रसिद्ध और सुनने में खूबसूरत लगने वाली बोली पहाड़ी, कुमाऊनी और गढ़वाली भाषा के कुछ प्रसिद्ध मुहावरे लाए हैं, जिनका अपना महत्व है – आपण-मैतक-ढूँग-लै-प्यार हूँ। हिंदी अर्थ – अपने मायके का पत्थर भी प्यारा लगता है। अफणी देलिक कुकुर लेक भली हुँ…

Read More

Garhwali Jokes [2020] | Pahari Jokes | Garhwali Comedy

Garhwali Jokes

Garhwali Jokes | Garhwali Comedy Here is the collection of Some Garhwali Comedy, Garhwali Jokes (Pahari jokes) read it and enjoy……… Basically, the language used here is Garhwali which is famous in Uttarakhand (INDIA). Garhwali language is a Central Pahari language belonging to the Northern Zone of Indo-Aryan languages. It is primarily spoken by the Garhwali people who are from the Garhwal Division of the northern Indian state of Uttarakhand in the Indian Himalayas. The Central Pahari languages include Garhwali and Kumauni (spoken in the Kumaun region of Uttarakhand). Garhwali, like…

Read More