दिल्ली से अपने दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने आया युवक की मौत

देहरादून के विकासनगर के पास कट्टा पत्थर में रविवार के शाम मे दोस्तों के साथ पिकनिक मनाने के लीऐ गया युवक यमुना नदी में बह गया। पुलिस दल घटना स्थल पर पहुंकर रेस्‍क्‍यू अभियान चला रही है। पुलिस के अनुसार बताया है की युवक देहरादून के कुमार मंडी यमुना कॉलोनी के रहने वाला हन्नी पुत्र विजय बताया गया है।

उसके बाद ऋषिकेश के मुनिकीरेती थाना क्षेत्र के नीम बीच में दिल्ली के रहने वाला एक युवक भी गंगा में डूब गया। पुलिस ने काफी खोजबीन की लेकिन युवक का कुछ पता नहीं चला।

जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि रविवार को जब इस घटना की सूचना पुलिस को मीली तो पुलिस मौके पर पहुंच कर युवक के तीन अन्य साथी से मिला। उसके बाद युवक के एक साथी ने बताया कि तपोवन स्थित सच्चा धाम आश्रम के पास वह कैफे चलाता है। पहाड़गंज दिल्ली के रहने वाले संदीप शर्मा उसके कैफे मे आया था। कैफे में सोने की व्यवस्था नहीं थी। इसीलिए संदीप शर्मा सोने के लिए कहीं और चला गया।उसके बाद संदीप शर्मा आज दोपहर घूमने के लिए नीम बीच गया था। उसके बाद संदीप शर्मा गंगा में नहाने का जिद करने लगा। उसके दोस्त ने मना भी किया मगर संदीप शर्मा नहीं माना और गंगा में नहाने के लिए उतर गया धीरे-धीरे वह गंगा के गाने पानी में गया जिसके कारण वह डुब गया। डूब गया, लेकिन संदीप शर्मा का बैग कैफे मे ही रखा रह गया।

शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा उत्तराखंड के सभी डिग्री कॉलेजों मे शिक्षको को तैयार करना होगा IAS-IPS   

नाम का युवक नौ अक्टूबर को उनके कैफे में आया था। कैफे में सोने की व्यवस्था ना होने के कारण वह रात को सोने के लिए कहीं और चला गया। आज दोपहर में वह घूमने के लिए नीम बीच पर आ गए। हितेश ने बताया कि संदीप शर्मा कुछ देर बाद गंगा में नहाने की जिद करने लगा। उन्होंने मना भी किया मगर, वह नहाने के लिए गंगा में उतर गया। देखते ही देखते वह गहरे पानी में चला गया और डूब गया। कहा कि युवक का बैग उसके कैफे में रखा है।

पुलिस ने जब उस युवक का बैग मंगवाया तो बैग में रखे आधार कार्ड से पता लगा की गंगा में डूबने वाले युवक संदीप शर्मा पुत्र जगदीश चंद्र शर्मा के नजदीक रहने वाले रामकृष्ण आश्रम मार्ग, वाराही माता मंदिर, पहाड़गंज दिल्ली के रहने वाले के रूप में की गई। उसके बाद थाना प्रभारी निरीक्षक आरके सकलानी ने कहा कि तत्काल एसडीआरएफ, फ्लड कंपनी और जल पुलिस की टीम को घटना स्थल पर तुरंत पहुंच कर काफी तलाश कीया लेकीन शाम तक युवक का कुछ पता नही चला।

आयुष चिकित्सकों की मांगों पर एक माह बाद भी कार्यवाही न होने पर आयुष चिकित्सकों की हो रही उपेक्षा*

Related posts

Leave a Comment