उत्तराखंड में शिक्षक और विद्यार्थी दोनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए, अभिभावक ने 30 नवंबर तक स्कूल बंद करने की मांग

उत्तराखंड में शिक्षक और विद्यार्थी दोनों कोरोना पॉजिटिव पाए गए, अभिभावक ने 30 नवंबर तक स्कूल बंद करने की मांग

 

उत्तराखंड में बहुत सारे शिक्षक और विद्यार्थी दोनों यह कोरोना संक्रमित पाए गए।जिसके कारण रविवार अखिलेश 30 नवंबर तक स्कूल बंद करने की मांग की है।नेशनल एसोसिएशन फॉर पेरेंट्स एंड स्टूडेंट्स ने शुक्रवार को इसके लिए डीएम को आवेदन भी भेजा है इसके साथ ही मांग पूरी नहीं होने पर आवेदन की चेतावनी भी दिया है।

 

आपको बता दे की एसोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष आरिफ खान ने बताया कि अभिभावकों के लगातार विरोध करने के बावजूद सरकार ने निजी स्कूलों को 2 नवंबर को खोला था फिर भी निजी स्कूल बहुत कम खोला गया था। लेकिन सरकारी स्कूल बिना तैयारियों के ही खोल दिए गए थे जिसके कारण वहां पर सभी स्कूल में कुछ टीचर और बच्चे कोरोना संक्रमित पाए गए।

जानकारी के लिए आपको बता दे की जब सरकार के पास टीचरों के लीऐ कोरोना टेस्ट की व्यवस्था नहीं है तो बच्चे स्कूल मे सुरक्षित कैसे रह पाएंगे।
उन्होंने आरोप लगाया कि निजी स्कूलों के दबाव में विभाग ने सरकार को भी सुरक्षा को लेकर गुमराह किया। बताया जा रहा है कि निजी स्कूल फीस के लिए खोले गए हैं,ताकि बच्चों के अभिभावकों से फीस वसूल किया जाए। बच्चों के अभिभावकों ने कहा कि 30 नवंबर तक स्कूल को बंद किया जाए अगर ऐसा नहीं होगा तो हम लोग आंदोलन शुरू कर देंगे

Related posts

Leave a Comment