प्रेमी-प्रेमिका का प्रेम देख ट्रस्टी हुए आग बबूला,प्रेमी को मरी गोली

कोतवाली क्षेत्र के अंतर्गत बाड़वाला जुड्डो मार्ग पर हथियारी के समीप एक आश्रम में एक युवक रविवार देर रात को अपनी प्रेमिका को मिलने पहुंच गया। जहां युवक के साथ आश्रम के ट्रस्टी व बाबा का विवाद हो गया। आरोप है कि बाबा व ट्रस्टी ने पहले तो युवक की जमकर पिटाई की। उसके बाद अपने लाइसेंसी रिवाल्वर से युवक को जान से मारने के लिए गोली मार दी। गोली युवक के पैर में लगी। जिससे युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने आश्रम के बाबा व ट्रस्टी को गिरफ्तार कर मौके से 32 बोर की रिवाल्वर पांच जिंदा कारतूस व एक खोखा कारतूस बरामद किये।

आगे पढ़े पद जाये पर वचन न जाये ,बोले श्रीमहंत हरिगिरी

पुलिस ने रिवाल्वर व कारतूस आदि कब्जे में लेकर बाबा व ट्रस्टी को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर दिया है। दोनों को सोमवार को कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया। घायल युवक को उपजिला चिकित्सालय विकासनगर में भर्ती कराया गया। जहां हालत गंभीर होने पर घायल को हायर सेंटर रेफर किया गया है। देर रात करीब साढे नौ बजे कोतवाली पुलिस को बाड़वाला -जुड्डो मार्ग स्थित आश्रम में गोली चलने की सूचना मिली। जिस पर कोतवाल राजीव रौथाण के नेतृत्व में पुलिस की टीम मौके पर पहुंची।
जहां आश्रम के बरामद में घायल युवक विक्रम भोला पुत्र हिम्मत भोला निवासी गोविंद पुरी नई दिल्ली हाल निवासी जीवनगढ विकासनगर व उसकी प्रेमिका बैठी थी। पुलिस ने जांच पड़ताल शुरु की। तब पता चला कि विक्रम भोला के बांये पैर में घुटने के नीचे गोली लगी थी। जिसमें विक्रम व उसकी प्रेमिका ने पुलिस को बताया कि विक्रम भोला अपनी प्रेमिका को मिलने आश्रम पहुंचा था। जहां आश्रम के बाबा का किसी बात को लेकर विक्रम भोला से विवाद हो गया।

आरोप है कि बाबा व ट्रस्टी ने पहले तो विक्रम भोला की जमकर पिटाई कर दी। जिसके बाद बाबा चंद्रभान उर्फ भगत के कहने पर बलराज कौशल ने अपने लाइसेंसी रिवाल्वर से विक्रम भोला को जान से मारने के लिए उस पर फायर झोंक दी। हालांकि फायर विक्रम के पैर में लग जाने से उसकी जिंदगी तो बच गयी। लेकिन वह गंभीर रूप से घायल हो गया।पुलिस ने मौके से बाबा चंद्रभान व ट्रस्टी बलराज को तत्काल गिरफ्तार किया। विक्रम की प्रेमिका की तहरीर पर पुलिस ने दोनों आरोपियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज कर दिया।
कोतवाल राजीव रौथाण ने बताया कि आरोपियों को सोमवार को कोर्ट में पेश किया गया। जहां से दोनों को न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया है। बताया कि युवक को उपजिला चिकित्सालय विकासनगर में भर्ती कराया गया। जहां हालत गंभीर हो गयी। बताया कि प्राथमिक उपचार के बाद घायल को हायर सेंटर के लिए रेफर किया गया है।

ट्रस्टी व बाबा की नजरों में काफी समय से खटकर रहा था विक्रम
पुलिस के अनुसार विक्रम भोला की प्रेमिका आश्रम में काम करती है। जिसके चलते विक्रम भोला अपनी प्रेमिका को मिलने आश्रम आता जाता रहता था। जिससे वह बाबा व ट्रस्टी को खटकने लगा। कई बार बाबा ने विक्रम के आश्रम में आने जाने का विरोध भी किया। लेकिन विक्रम नहीं माना। रविवार को तो विक्रम देर रात नौ बजे आश्रम में फिर पहुंच गया। रात नौ बजे विक्रम का आश्रम में पहुंचना बाबा व ट्रस्टी को नागवार गुजरा।जिसके चलते बाबा ने विक्रम को ठिकाने लगाने के लिए उस पर फायर झोंक दिया। विक्रम अक्सर आश्रम आता जाता था,जिसको लेकर आश्रम के बाबा व ट्रस्टी नाराज थे और उसका अंजाम हत्या के प्रयास में तब्दील हो गया।

आगे पढ़े दर्जन गाडियों में सवार किसान पहुंचे दिल्ली,देखती रह गई पुलिस

Related posts

Leave a Comment