15 साल का विकास ने नाचनी -बांसबगड़ सङक पर स्वयं भरे दस से ज्यादा  गड्ढे,समाज को दिखाया आईना

पिथौरागढ़ : आजकल तो हर जगह लोग सार्वजनिक समस्याओं को लेकर अपने हाथों में पोस्टर, बैनर लेकर सड़क जाम करना, व्यवस्था के खिलाफ प्रदर्शन करना शुरू कर देते हैं।ये सब तो आजकल आम बात हो गई है। कुछ जगह तो लोग अपनी परेशानियों को खुद सुलझाना भी चाहते हैं, और शायद सुलझा भी लेते हैं।

जहां पर व्यवस्था के पहुंचने में समय लगता है। उन स्थानों पर सहयोग के लिए आगे आने वालों की संख्या काफी कम होती है। ऐसा एक उदाहरण नाचनी -बांसबगड़ दस किमी मार्ग पर एक पंद्रह वर्षीय किशोर ने पेश किया है।

प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के अंतर्गत तल्ला जोहार में नाचनी से बांसबगड़ 10 सड़क अपनी कमियों को लेकर हमेशा चर्चा में रहती है। प्रतिवर्ष मानसून काल में यह सड़क लंबे समय तक बंद रहती है। इस सड़क से लगभग तीस हजार से अधिक की आबादी जुड़ी है। इस समय सड़क छोटे वाहनों के लिए खुली है, परंतु मार्ग में आठ से दस स्थानों पर सड़क में बड़े-बड़े गड्ढे बने हैं। सड़क पर चलने वाले वाहन चालक, स्थानीय जनप्रतिनिधि, स्थानीय जनता इन गड्ढों को लेकर आए दिन  परेेेशा होतेे रहते है।

उत्तराखंड में डिग्री कॉलेजों को खोले जाने की हो रही है, तैयारी

जानकारी के लिए आपको बता दे की एक पंद्रह साल का लड़का विकास सिंह ने सारे विरोध करने वालों को आईना दिखा दिया। विकास सिंह ने अकेली ही पूरे रास्ते पर बने गड्ढों को मिट्टी और पत्थरो से भर दिया।

आपको बता दें कि बुधवार सुबह से ही अकेले विकास सिंह ने लगभग सड़क पर बने 10 गड्ढे के कारण वाहनों को चलने में कठिनाइयां हो रही थी। उसे विकास सिंह ने अकेले ही भर दिया। विकास सिंह के इस कार्य को वहां के लोगों ने खूब सराहना की है।

बताया जा रहा है कि विकास सिंह चम्पावत जिले का देवीधूरा के रहने वाला हैं। विकास सिंह के पिता रमेश सिंह लोधियाल नाचनी वन विभाग में तैनात हैं। वह अपने पिता के साथ रहता है और कक्षा दस का छात्र है।

भाजपा के नेता रविंद्र जुगरान ने डीएलएड प्रशिक्षितों के दूसरे बैच मे नियुक्ति देने की माँग की

हम सभी जानते हैं सड़क सार्वजनिक संपत्ति होती है सड़क की सुरक्षा करना सभी लोगों की जिम्मेदारियां होती है। इसीलिए हमें अपने कर्तव्य से कभी भी पीछे नहीं हटना चाहिए। हमें अपने कर्तव्य को पूरा करना ही चाहिए। हमारे समाज में जितने भी जाति के लोग रहते हैं।सभी को अपनी संपत्ति की सुरक्षा करने का बिल्कुल हक है। वो अपनी संपत्ति का सुरक्षा कर सकते हैं। अगर सरकारी काम में कभी समय लगता है तो हम सबको मिलकर हाथ बढ़ाना चाहिए ताकि हमें ज्यादा दिन परेशानियों का सामना ना करना पड़े।

Related posts

Leave a Comment