भूकम्प से तीन मकान ध्व्स्त ,लोगो ने भाग कर बचाई जान

earthquake

मोरी प्रखंड के सुदूरवर्ती हडवाड़ी गांव में भूस्खलन की जद में आने से तीन मकान व एक कुठार ध्वस्त हो गया, जबकि चार मकानों को आंशिक क्षति पहुंची। प्रभावित ग्रामीणों को प्राथमिक स्कूल में शिफ्ट किया गया। राजस्व विभाग की टीम गांव पहुंची भावित परिवारों ने भाग जान बचाई। प्रशासन ने प्रभावित परिवारों के रहने की व्यवस्था गांव के प्राथमिक विद्यालय में की है। मौके पर पहुंची राजस्व विभाग की टीम क्षति का आकलन करने में जुटी है। प्रभावितों को राहत सामग्री मुहैया कराई जा रही है।
बुधवार देर शाम को हडवाड़ी गांव में पहाड़ी से भूस्खलन होने पर भारी मलबा मकानों के ऊपर गिर गया, जिससे लोगों में अफरा-तफरी मच गई। भूस्खलन की जद में आए मकानों में रह रहे लोगों ने भागकर किसी तरह अपनी जान बचाई।

आगे पढ़े नए साल में नए रूल ,वाहनों के लिए अब ट्रिप कार्ड बनना हुआ जरूरी

हादसे में कोई चोटिल नहीं
गनीमत रही हादसे में कोई चोटिल नहीं हुआ। प्रभावित परिवारों ने रात में गांव के अन्य घरों में शरण ली। सूचना मिलते ही गुरुवार सुबह तहसीलदार चमन सिंह के नेतृत्व में राजस्व, पुलिस एवं एसडीआरएफ की टीम मौके पर पहुंची। राजस्व विभाग की टीम द्वारा भूस्खलन में हुई क्षति का आकलन किया जा रहा है। साथ ही प्रभावित परिवारों के रहने की व्यवस्था गांव के बेसिक स्कूल में की गई है। राजस्व विभाग की टीम के अनुसार आपदा में हडियाड़ी निवासी मक्खन सिंह, सुप्रभात, जगवीर के आवासीय मकान व एक कुठार मलबे में दब गए, जबकि सोनदास, दिनेश लाल, विक्रम सिंह एवं चंद्र सिंह के मकानों को आंशिक क्षति पहुंची है। एसडीएम सोहन सिंह सैनी ने बताया कि प्रभावितों को फिलहाल प्राथमिक विद्यालय भवन में रखा गया है। उन्हें राहत सामग्री मुहैया कराने के निर्देश दिए गए हैं। राजस्व की टीम अभी भी गांव में डेरा डाले हुए हैं। जल्द ही क्षति का आकलन कर रिपोर्ट जिला प्रशासन को भेजी जाएगी।

आगे पढो चीफ बंशीधर भगत के चीप शब्द, नेता प्रतिपक्ष इंदिरा को कहे बिगाड़े बोल

Related posts

Leave a Comment