रुद्रपुर में आर्थिक तंगी से परेशान होकर रिक्शा चालक ने जहर खाकर किया सुसाइड

कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन लगाया गया था। जिसमें बहुत सारे लोगों का काम छूट गया काम नहीं होने के कारण उन्हें आमदनी होना भी बंद हो गया। जिसके कारण आर्थिक तंगी लोगों को झेलनी पड़ी। जिससे बहुत लोगों ने तो आर्थिक तंगी से परेशान होकर अपनी जान तक दे दिया।

हल्द्वानी मे आर्थिक तंगी से परेशान होकर एक रिक्शा रिक्शा चालक ने जहर खाकर सुसाइड कर लिया। जब उसके परिवार वाले ने अस्पताल में भर्ती करवाया तो इलाज के दौरान ही रिक्शा चालक ने दम तोड़ दिया। जानकारी के अनुसार बताया जा रहा है कि रिक्शा चालक ने बैंक से लोन लिया था और वह किस्त समय से नहीं भर पा रहा था। जिसके कारण रिक्शा चालक हमेशा परेशान रहता था।

शिक्षा राज्य मंत्री डॉ. धन सिंह रावत ने कहा उत्तराखंड के सभी डिग्री कॉलेजों मे शिक्षको को तैयार करना होगा IAS-IPS   

रुद्रपुर के रामपुर रोड स्थित समता आश्रम गली के रहने वाले 28 वर्षीय प्रमोद शर्मा तीन भाइयों में सबसे बड़ा था। प्रमोद शर्मा रिक्शा चलाकर अपना घर परिवार चला रहा था। प्रमोद शर्मा के दोनों भाइयों का विवाह हो चुका था ,लेकिन प्रमोद शर्मा ने अभी तक शादी नहीं किया था। कोरोना वायरस के कारण लॉकडाउन लगाया गया। जिसके कारण एक भी सवारियां नहीं मिल रही थी। जिसके कारण प्रमोद शर्मा की आर्थिक स्थिति बहुत ज्यादा खराब हो गई।

पुलिस के अनुसार 11 अक्टूबर को रिक्शा चालक अपने घर पर अकेला था। इस बीच रिक्शा चालक ने विषैला जहर पी लिया। जिसके कारण उसकी हालत बिगड़ गई। उसके बाद रिक्शा चालक के परिवार वालों ने बिगड़ती हालत को देखते हुए तुरंत ही अस्पताल में भर्ती करवा दिया लेकिन रात के 12:00 बजे अस्पताल में इलाज के दौरान रिक्शा चालाक की मौत हो गई। रिक्शा चालक की मौत होने के बाद मंगल पड़ाव चौकी के इंचार्ज कैलाश सिंह नेगी ने कहा कि इससे पहले भी दो बार प्रमोद रिक्शा चालक सुसाइड करने का कोशिश किया था।

देहरादून में वन विभाग में नौकरी दिलवाने के नाम पर फौजी से ठगा 7 लाख रूपये

Related posts

Leave a Comment