पिथौरागढ़

पिथौरागढ़: जिलाधिकारी ने की प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की वर्चुवल बैठक के माध्यम से समीक्षा

पिथौरागढ़

मंगलवार को प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना की वर्चुवल बैठक के माध्यम से समीक्षा करते हुए जिलाधिकारी आनन्द स्वरूप ने कहा कि जिले में आगामी खरीफ आधारित फसलों में जिले के किसानों को उनकी फसलों का हुए नुकसान का मुआवजा मिले इसके लिए वर्तमान में आगामी 15 जुलाई तक प्रत्येक किसान का फसली बीमा अवश्य कराएं। इसके लिए कृषि विभाग,बैंक तथा ग्रामीण स्तर पर कार्यरत विभिन्न विभागों के प्रतिनिधि एक विशेष अभियान चलाकर अधिक से अधिक किसानों का बीमा कराएं।समीक्षा के दौरान जिलाधिकारी ने कहा कि जिस भी किसान को फसल का नुकसान हुआ हो,तो उन्हें तत्काल बीमा की राशि का भुगतान किया जाय।

इसके लिए बैंक तथा कृषि विभाग आपसी समन्वय के साथ कार्य करें। जिलाधिकारी ने कहा कि खरीफ फसल की बीमा के लिए आगामी 15 जुलाई तक जो अंतिम तिथि निर्धारित की गई है, जिले में अधिक से अधिक किसानों की फसल का बीमा करने के लिए सभी बैंक तथा सीएससी सेंटर इस कार्य को प्राथमिकता देते हुए कार्य करें। उन्होंने मुख्य कृषि अधिकारी को निर्देश दिए कि जिले में आगामी 15 जुलाई तक एक विशेष अभियान चलाकर प्रतिदिन की फसल बीमा की प्रगति से अवगत कराएंगे।

जिलाधिकारी ने बैठक में उपस्थित विभिन्न बैंकों से आए प्रतिनिधियों से अपील करते हुए कहा कि वे सभी केसीसी,लोनी व बिना लोनी कृषकों का अवश्य ही कृषि बीमा कराकर उनकी प्रीमियम धनराशि काटते हुए आगामी 31 जुलाई तक उनके आवेदन पोर्टल पर अपलोड कर लें।जिलाधिकारी ने कहा कि बैंकों का जिस प्रकार से जिले में अन्य सरकारी योजनाओं में सराहनीय सहयोग प्राप्त हो रहा है उसी प्रकार फसली बीमा योजना में भी सहयोग प्रदान करें।
जिलाधिकारी ने जिले के सभी कृषकों से अपील की है कि वह आगामी 17 जुलाई 2021 तक अपनी खरीफ फसल का अवश्य बीमा कराएं, इसके लिए वे अपना आधार,खतौनी व बैंक के साथ बैंक तथा किसी भी सीएससी में जाएं।

बैठक में मुख्य कृषि अधिकारी अमरेन्द्र चौधरी ने फसल बीमा योजना की जानकारी देते हुए जिले में वर्ष खरीफ 2016 से खरीफ 2021 तक कृषकों द्वारा किए गए बीमा के अंतर्गत जमा प्रीमियम राशि में से क्षतिपूर्ति राशि के बारे में वर्षवार जानकारी दी। जिसके अंतर्गत 95 लाख 21 हजार जमा प्रीमियम के सापेक्ष 1 करोड़ 79 लाख 65 हजार की धनराशि कुल 8972 किसानों को फसल क्षतिपूर्ति की राशि का लाभ दिया गया।
बैठक में आगामी 15 जुलाई तक किसानों के फसल बीमा के आवेदन जमा किए जाने को लेकर लक्ष्य सौंपे गए। जिसमें सहकारी विभाग को 1500,ग्रामीण बैंक को 750,स्टेट बैंक को 2000 सहकारी बैंक को 1500 का लक्ष्य दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस ग्राम सभा में सबसे अधिक कृषक बीमा होंगे, उन्हें सम्मानित भी किया जाएगा।

बैठक में लीड बैंक प्रबंधन अमर सिंह ग्वाल, क्षेत्रीय प्रबंधक यूजीबी कृष्ण मोहन शर्मा,कृषि एवं भूमि संरक्षण अधिकारी पूजा पुनेड़ा, आदि उपस्थित रहे ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!