पिथौरागढ़

मजबूरी बन गई मजदूरी, ग्रामीणों के समक्ष रोजी-रोटी का संकट

पिथौरागढ़
जिले में दिल्ली मुंबई अन्य राज्यों व शहरों में काम करने वाले वह सभी लोग लॉकडाउन में जैसे तैसे घर आए, अब भुखमरी की कगार में जूझ रहे हैं, परिवार का पालन पोषण करने के लिए गांव घरों में लेवरी मजदूरी कर अपने परिवार का पालन पोषण करने को मजबूर हैं। इस समय जिला मुख्यालय से नेपाल बॉर्डर को जोड़ने वाली सड़क रावतगडा में ये लोग काम कर रहे हैं। यह सभी ग्रामीण लॉकडाउन से पहले दिल्ली मुंबई जैसे शहरों में काम किया करते थे। जो आज सड़क पर रोटी तोड़ने, मिट्टी खोदने का काम कर रहे हैं, उनका कहना है, कि अगर मजदूरी नहीं करते हैं, तो बच्चों का पालन पोषण कैसे करेंगे। वर्तमान में इन लोगों के सामने रोजी-रोटी का संकट बना हुआ है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!