पिथौरागढ़

थल में रामलीला मंचन के लिए 14 सितंबर से होगी तालीम

थल की 92 साल पुरानी रामलीला कमेटी की एक आम बैठक रामलीला कमेटी के अध्यक्ष दिनेश चंद्र पाठक की अध्यक्षता में आयोजित की गई।बैठक का मुख्य उद्देश्य श्री राम लीला मंचन और तालीम शुरू करने के एवज में की गई थी। कमेटी के सचिव अर्जुन सिंह रावत ने बैठक में लोगों को पूर्व महानिदेशक भू वैज्ञानिक त्रिभुवन सिंह पांगती द्वारा उनके पिता की स्मृति में दिए गए जाने वाले तीन सर्वश्रेष्ठ कलाकारों को लक्ष्मण पुरस्कार राशि देने की जानकारी दी। कोरोना महामारी के चलते पिछले साल मंचन स्थगित होने के कारण इस साल की बैठक में उपस्थित सभी लोगों ने नवरात्रि में ही रामलीला मंचन करने की आम सहमति तय की।

जिससे मंचन के लिए 14 सितंबर से तालीम करने का भी निर्णय लिया।बैठक में सर्वसम्मति से सभी पदाधिकारियों व सदस्यों की सहमति से पुरानी कमेटी में कोई बदलाव नहीं करने का निर्णय लिया गया। कमेटी के अध्यक्ष दिनेश चंद्र पाठक ने बताया की नए पात्रों के लिए संबंधित सभी स्थानीय स्कूलों में पत्र लिखकर सूचना भेजी जा रही हैं।कमेटी के कोषाध्यक्ष प्रवीण सिंह जंगपांगी ने कहा तालीम के लिए दो दिन के भीतर अनुकूलित तालीम कक्ष की व्यवस्था की जा रही हैं।

बैठक का संचालन उपाध्यक्ष कृष्ण गोपाल पंत ने किया।बैठक में महिला उपाध्यक्ष सीमा बिष्ट,संरक्षक गंगा सिंह मेहता, दान सिंह बिष्ट, मनोहर सत्याल ,दान सिंह बिष्ट,स्टेज डायरेक्टर सुंदर राम,मनोहर आर्या,भूपेंद्र जंगपांगी,बबलू सामंत,भूपेंद्र पांगती,प्रमोद उपाध्याय,विक्रम कठायत,चंद्र मोहन पांगती,राजेश पंचपाल,कौस्तुभानंद ततराड़ी,कुंदन राम,गुडडू पाठक,विक्की सामंत,अनिल कार्की ,महेश पाठक,राजेंद्र,मनोहर
क्वीरीयाल,त्रिभुवन रावत, चन्द्र मोहन पांगती सहित कमेटी के कई कार्यकर्ता मौजूद रहे।




Arjun Rawat

Author

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!