LPG ने उपभोक्ताओं पर किया चीता की तरह हमला

जी हा देश कि सबसे बड़ी तेल कंपनी इंडियन ऑइल कॉरपोरेशन ने दिया एक बड़ा झटका , फ़िर से बिन बताए बढ़ाए १४.२ किलोग्राम वाले गैस सिलेंडर के भाव। ५० रूपए से आई गैस सिलेंडर की कीमत में वृद्धि।
इससे पहले भी २ दिसंबर को कंपनी ने चोरी छिपे  LPG रसोई गैस कि कीमत में ५० रूपए कि वृद्धि की थी । दिसंबर के पहले १५ दिन में १४.२ किलोग्राम वाले  रसोई गैस सिलेंडर में १०० रूपए की वृद्धि।
आपको बता दें कि गैस कंपनी महीने कि पहली तारिक को गैस की कीमत में संशोधन करती हैं ओर पहले से उपभोक्ताओं को सचेत कर देती है  कि गैस के दाम बढ़ेगे । लेकिन इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन ने कुछ अलग किया, कंपनी ने बिना बताए दाम बढ़ाए जिससे लोग हुए हैरान।
१ दिसंबर को आईओएस ने जानकारी दी थी कि १४.२ किलोग्राम वाले गैस सिलिंडर  की कीमत में कोई वृद्धि नहीं कि गई है । जबकि वेबसाइट पर करीब १० दिन बाद ही ५० रूपए की वृद्धि की। १४.२ किलोग्राम गैर सब्सिडी वाले एलपीजी गैस सिलेंडर कि कीमत ५९४ रूपए से बढ़ा कर ६४४ कर दिए ।
देहरादून में अब तक १४.२ किलो वाला घरेलू गैस सिलिंडर ७३१.५० रुपये में मिल रहा था। जो अब १४५ रुपये अधिक यानी ८७६.५०रुपये में मिलेगा। पिछले वर्ष सितंबर माह से यह पांचवां मौका है जब रसोई गैस के दामों में बढ़ोतरी की गई है।
रसोई गैस के मूल्य में वृद्धि आम जनता का शोषण 
कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष प्रीतम सिंह ने कहा कि रसोई गैस की कीमतों में बढ़ोतरी आम जनता का शोषण है। भाजपा सरकार ने महंगाई से आम जनता की कमर तोड़कर रख दी है। इसके विरोध में कांग्रेस बृहस्पतिवार प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों और शहर स्तर पर भाजपा सरकार का पुतला दहन करेगी।

मीडिया को जारी बयान में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि केंद्र ने वर्ष 2020 की शुरुआत में ही रसोई गैस सिलेंडर के दामों में लगातार दूसरी बार भारी वृद्धि की है। केंद्र की मोदी सरकार ने एक बार फिर साबित कर दिया है कि यह सरकार आम जनता की न होकर कुछ पूंजीपतियों की सरकार है। उन्होंने कहा कि पहले से ही महंगाई की मार झेल रही गरीब जनता पर केंद्र सरकार द्वारा लगातार महंगाई का बोझ डाला जा रहा है।

केंद्र सरकार महंगाई पर लगाम लगाने में पूरी तरह नाकाम हो चुकी है। केंद्र महंगाई से जनता का शोषण कर रही है। घरेलू गैस सिलेंडर के दाम बढ़ाकर आम आदमी की जेब पर डाका डालने का काम किया है। चुनावों में बड़े-बड़े वादे करने वाले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश की गरीब जनता का मजाक उड़ा रहे हैं। प्रीतम ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दामों में कमी होने के बावजूद केंद्र सरकार द्वारा तेल कंपनियों को फायदा पहुंचाते हुए रसोई गैस सिलेंडर के दामों में लगातार वृद्धि की जा रही है।
क्या इस तरह से उपभोक्ताओं को सूचित किए बिना गैस सिलेंडर कै भाव बढ़ाना उचित है ?
हर घर गैस सिलिंडर की योजना आज प्रधान मंत्री ने बनाई ताकि हर घर सिलिंडर का उपयोग हो ओर लोगों के काम को आसान बनाने की कोशिश कि। आज हर वर्ग के लोग गैस  सिलिंडर उपयोग करते है ओर इस तरह अगर भाव बढ़े तो लोग गैस से फिर चुले पर आजाएगे।

Related posts

Leave a Comment