27 दिसम्बर, से मौसम फ़िर बदलेगा अपना मिजाज़

प्रदेश में कुछ दिन मौसम साफ रहने के बाद 27 दिसंबर से एक बार फिर बदलाव के संकेत दिख रहे हैं। मौसम विज्ञान केन्द्र देहरादून के अनुसार, 27 को गढ़वाल क्षेत्र में कहीं-कहीं बहुत हल्की बारिश और बर्फबारी की संभावना है। वहीं गुरुवार से मैदानी क्षेत्रों में कोहरे का प्रभाव कुछ कम होने की उम्मीद है। मौसम विभाग की ओर से जारी पूर्वानुमान के अनुसार, 26 दिसंबर तक मौसम शुष्क बना रहेगा।
मौसम केन्द्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार, गुरुवार को प्रदेश में आसमान आमतौर पर साफ रहेगा और अधिकतम तापमान 24 डिग्री तक रहने का अनुमान है। कहा कि दिन में धूप खिली रहेगी जिससे ठंड से शहरवासियों को कुछ राहत मिल सकती है।

आगे पढ़े क्या प्राइवेट स्कूल करेगी फीस में कटोती ऑनलाइन क्लासेज की वजह से ?

मुक्तेश्वर में अधिकतम तापमान 17.5 और न्यूनतम तापमान 4.7 व नई टिहरी में अधिकतम तापमान 18.4 व न्यूनतम 5.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। प्रदेश के कई शहरों में दिन और रात के तापमान में फर्क ने लोगों की मुश्किलें बढ़ा दी है। रात को तापमान कम होने से लोगों काे कड़ाके की ठंक का सामना करना पड़ रहा है।
हालांकि ठंड में वृद्धि और खासकर अधिकतम और न्यूनतम तापमान में अंतर से सुबह-शाम ठंड का एहसास कायम रहेगा। बुधवार को देहरादून में अधिकतम तापमान 24.4 और न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री दर्ज किया गया जो सामान्य से एक डिग्री कम है। पंतनगर में अधिकतम तापमान 24.8 और न्यूनतम तापमान तीन डिग्री रहा, जो सामान्य से तीन डिग्री कम है।

दून के रात और दिन तापमान में 18 डिग्री का अंतर ।

देहरादून में बीते दो दिनों में अधिकतम तापमान में वृद्धि दर्ज की गई है। 21 दिसंबर को जहां तापमान सामान्य से एक डिग्री कम चला गया था, वहीं अब यह सामान्य से चार डिग्री ऊपर चल रहा है। हालांकि न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री सेल्सियस कम है। इसमें आने वाले दिनों में मामूली गिरावट आने की संभावना है।
27 दिसंबर से मौसम में बदलाव के कारण अधिकतम और न्यूनतम तापमान में भी गिरावट आ सकती है। दून में बुधवार को अधिकतम तापमान 24.4 और न्यूनतम तापमान 6.1 डिग्री सेल्सियस रहा। अधिकतम और न्यूनतम तापमान में करीब 18 डिग्री का अंतर रहा है। मौसम केन्द्र के निदेशक बिक्रम सिंह के अनुसार, मौसम अभी शुष्क है, लेकिन जल्द ही इसमें बदलाव दिखेगा। इस वजह से अधिकतम व न्यूनतम तापमान में भी कमी आएगी। 26 दिसंबर की शाम से आसमान में बादलों की मौजूदगी फिर से बढ़ जाएगी।

आगे पढ़े  11 साल की बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या

Related posts

Leave a Comment