देवभूमि न्यूज़देहरादूनराजनीति

देहरादून: शिक्षामंत्री ने कहा प्राथमिक विद्यालयों में अतिथि शिक्षकों की तैनाती होगी

देहरादून: शिक्षा मंत्री ने कहा है कि प्रदेश के सरकारी प्राथमिक विद्यालयों में रिक्त शिक्षक पदों पर अतिथि शिक्षकों की तैनाती की जाएगी। शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने कहा है कि इस संबंध में एक सप्ताह के भीतर प्रस्ताव देने के लिए विभागीय अधिकारियों को निर्देश जारी कर दिए गए हैं।

मालूम हो कि प्रदेश में सरकारी माध्यमिक विद्यालयों में 3000 से भी ज्यादा अतिथि शिक्षक वर्तमान समय में कार्यरत हैं। बता दें कि पिछले दिनों नवनियुक्त मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने अतिथि शिक्षकों का मानदेय 15,000 से बढ़ाकर 25,000 करने का निर्णय लिया है। साथ ही इन शिक्षकों के पदों को रिक्त घोषित न करने की बात कही गई है। 

बुधवार को शिक्षा मंत्री अरविंद पांडे ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान कहा कि प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति का मामला इन दिनों अदालत में है। नियुक्ति न हो पाने की वजह से बच्चों की पढ़ाई पर बुरा असर पड़ रहा है। ऐसे में नियमित नियुक्ति होने तक अतिथि शिक्षकों की तैनाती के प्रस्ताव पर गुण दोष के आधार पर निर्णय लिया जाएगा।

अनुरोध के आधार पर बढ़ेगा तबादला का दायरा

 कैबिनेट मंत्री अरविंद पांडे ने कहा है कि अनुरोध के आधार पर शिक्षकों के तबादलों का दायरा बढ़ाया जाएगा। उन्होंने कहा है कि गंभीर रूप से बीमार के  अतिरिक्त कोरोना वायरस से स्वजनों की मृत्यु होने पर संबंधित शिक्षकों के साथ ही विधवा, विधुर शिक्षकों को अनुरोध के आधार पर उनके तबादले स्वीकार किए जाएंगे।

उन्होंने बताया कि फीस एक्ट के संबंध में शिक्षा विभाग की तरफ से संशोधित ड्राफ्ट प्रशासन को भेज दिया गया है। इसको सरकार जल्दी लागू करने की योजना बना रही है।

एक परिसर के विद्यालयो का होगा विलय –

शिक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि एक परिसर के अंदर संचालित विभिन्न विद्यालयों को हर हाल में विलय कर दिया जाएगा। इसके लिए आदेश जारी किए जा चुके हैं। आदेश का सख्ती से क्रियान्वयन करवाया जाएगा। अधिकारियों को कोरोना वायरस के चलते स्थगित एलटी भर्ती परीक्षा के संबंध में अधीनस्थ सेवा चयन आयोग और प्रवक्ता भर्ती के दूसरे चरण के लिए राज्य लोक सेवा आयोग से प्रचार करने के लिए निर्देश जारी किया गया है। साथ ही एलटी से प्रवक्ता, प्रवक्ता से प्राध्यापक व प्रधानाचार्य के पदों पर प्रोन्नत की कार्यवाही को तेजी से पूरा करने का भी आदेश जारी किया गया है।

अशासकीय विद्यालयों में आयोग के माध्यम से होगी भर्ती –

शिक्षामंत्री ने बताया कि सहायता प्राप्त अशासकीय विद्यालयों में रिक्त पदों पर जल्द ही आयोग के माध्यम से भर्ती किए जाने पर विचार चल रहा है। यह तय किया गया है कि अशासकीय विद्यालयों में कार्यरत पीटीए व तदर्थ शिक्षकों की समस्याओं के समाधान के लिए संबंधित एक्ट में आवश्यक संशोधन किया जाएगा। इसके लिए संबंधित विभाग को प्रस्ताव तैयार करने का आदेश जारी किया गया है।

 चंपावत स्थित शिक्षा जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान में डीएलएड शुरू करने के लिए विभाग से प्रस्ताव मांगा गया है। सभी सरकारी विद्यालयों को रंग रोगन दुरुस्त करने का आदेश जारी किया गया है।

शैलेश मटियानी पुरस्कार के मानक बदलेंगे – 

शिक्षा मंत्री ने राज्य शिक्षक पुरस्कार शैलेश मटियानी पुरस्कार के मानकों में परिवर्तन की बात कही है। उन्होंने कहा है कि अब इसके तहत 58 वर्ष की आयु तक के शिक्षक आवेदन कर सकेंगे। जो शिक्षक सेवानिवृत्त के कगार पर पहुंच चुके हैं उन्हें इस पुरस्कार का लाभ नहीं मिल पा रहा है। इसे देखते हुए पुरस्कार के मानकों में बदलाव किया जाने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है। इसके लिए जल्द ही शासनादेश भी जारी कर दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!