देवभूमि न्यूज़देहरादून

देहरादून: 5 वर्ष की बच्ची से दुष्कर्म के बाद हत्या मामले में काफी मशक्कत के बाद आरोपी ने जुर्म कुबूला

देहरादून: जिले के लक्ष्मणचौक चौकी क्षेत्र से लापता हुई 5 वर्ष की बच्ची का शव बरामद कर लिया गया है। बच्ची की तलाश में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ी। पहले बच्ची की मां सही जानकारी नही दी जिसकी वजह से पुलिस सुराग ढूंढने के लिए मशक्कत करती रही। इसके बाद आरोपी पकड़ में आने के बाद पुलिस को लगभग 24 घंटे तक गुमराह करता रहा। जब पुलिस ने सख्ती बरती तब आरोपी टूट गया और जुर्म कुबूल कर लिया।

बता दे सोमवार की दोपहर के बाद पुलिस को सूचना मिली थी कि गोविंदगढ़ से 5 वर्ष की बच्ची लापता हो गई है। मामले की गंभीरता से लेते हुए वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ योगेंद्र सिंह रावत ने एसपी सिटी सरिता डोभाल के नेतृत्व में बच्ची की तलाश के लिए टीम का गठन किया। पुलिस शुरू में इस मामले को अपहरण का मामला मानकर खोजबीन कर रही थी। लेकिन कोई भी सुराग नही लग रहा था। 

दूसरी तरफ बच्ची की मां भी सही जानकारी नहीं दे रही थी। पहले बच्ची की मां ने कहा कि बच्ची दोपहर से गायब है।  बाद में पुलिस द्वारा सख्त रुख अपनाए जाने पर कहा कि बच्ची सुबह बाहर खेल रही थी और सुबह से ही गायब है। बच्ची की तलाश में पुलिस आसपास के सब्बि चौक चौराहों पर लगे सीसीटीवी फुटेज खंगालने लगी। जिसमें एक फुटेज में बच्ची की तस्वीर के रूप में पुलिस के हाथ एक सुराग लगा और इसके बाद मामला परत दर परत खोलने लगा।

बच्ची की फुटेज बल्लूपुर के पास के सीसीटीवी कैमरे में कैद थी, जिसमें वह किसी व्यक्ति के साथ विक्रम में बैठकर प्रेमनगर की तरफ जा रही थी। सीसीटीवी में आरोपी की तस्वीर भी पुलिस को मिल गई। आरोपी की पहचान चुनचुन मेहतो (19 वर्ष) के रूप में हुई, जो की बच्ची का पड़ोसी निकला। आरोपी दिहाड़ी मजदूर के रूप में काम करता है और नशे का आदि है। आरोपी चुनचुन मेहतो मूलरूप से बेगूसराय (बिहार) का रहने वाला है। मंगलवार को पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया था। लेकिन आरोपी लगभग 24 घंटे तक वह पुलिस को गुमराह करता रहा। पहले उसने कहा कि वह बच्ची को किसी को बेच दिया है। अंत में जब पुलिस ने सख्ती बरती तब आरोपी ने कुबूल कर लिया कि उसने बच्ची के साथ दुष्कर्म करके बच्ची की हत्या कर दी है और उसके शव को रांगडवाला रोड के झाड़ियों में फेंक दिया है।

 सीसीटीवी फुटेज में बच्ची जिस विक्रम में बैठी देखी जा रही है पुलिस ने उसके चालक से भी घंटों पूछताछ की। विक्रम में बैठाकर कर ही आरोपी बच्ची को रांगड़वाला ले गया था। विक्रम चालक ने आरोपी से किसी भी प्रकार के संबंध होने से इनकार करते हुए कहा कि वह सामान्य सवारी की तरह ही उन्हें विक्रम में बैठाया था।

इस मामले में देहरादून के एसएसपी डॉ योगेंद्र सिंह रावत ने कहा है कि गोविंदगढ़ से लापता हुई 5 वर्ष की बच्ची का शव प्रेमनगर क्षेत्र से बरामद कर लिया गया है। बच्ची की हत्या करने वाले आरोपी को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि आरोपी ने पहले बच्ची से दुष्कर्म किया और उसके बाद उसकी गला घोंटकर हत्या कर दी। पोस्टमार्टम में इस बात की पुष्टि हो जाएगी। पुलिस ने यह भी कहा कि आरोपी व्यक्ति बच्ची को पहले से ही जानता था और उसके घर के पड़ोस में ही रहता था।

यह भी देखे : क्या है उत्तराखंड का भू कानून? सोशल मीडिया पर क्यो ट्रेंड हो रहा उत्तराखंड माँगे भू कानून

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!