रुड़की मे विदेश में नौकरी दिलवाने के नाम पर ठगा 2.78 लाख

रुड़की मे विदेश में नौकरी दिलवाने के नाम पर ठगा 2.78 लाख

आजकल तो सभी लोग चाहते हैं कि कुछ पैसे लगाकर भी हमें अगर कोई नौकरी दिलवा दे तो वो पैसे देने के लिए भी तैयार रहते हैं। ऐसे में कुछ लोग गलत इंसान पर भी भरोसा करके पैसे दे देते हैं,लेकिन ना तो उनको नौकरी मिलती है,और न ही उनका पैसा वापस हो पाता है।

आपको बता दें कि रुड़की मे विदेश में नौकरी दिलवाने के नाम पर एक युवक से 2.78 लाख रुपये की ठगी की गई। उसके बाद युवक ने पुलिस थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज करवा दिया. उसके बाद पुलिस ने कोर्ट के आदेश पर एक परिवार के चार सदस्यों समेत आठ पर मुकदमा दर्ज किया है। मुकदमा दर्ज करने के बाद पुलिस इस मामले की जांच शुरू कर दी है।

आपको बता दे की सिविल लाइंस कोतवाली क्षेत्र के माजरा गांव के रहने वाले सुदंर लाल का भाई विदेश में नौकरी करता है। लॉकडाउन के दौरान सुंदर लाल को बिहार का रहने वाला रुपेश ने फोन कीया।उसने बताया कि वह उसके भाई विशाल का दोस्त है। वो भी विदेश में नौकरी करता है। उसके बाद उसने सुन्दर लाल को सउदी अरब में नकरी लगवाने की बात की। इसके लिए उसने अपने भाई दीपू्, मां गायत्री और दादा गुरदयाल से भी बात कराई। परिवार के सभी सदस्यों से बात कराने के बाद रुपेश ने उसे झांसे में ले लिया।

देहरादून में शिक्षकों के लिए आई बड़ी चुनौती, बच्चों को पढ़ाना होगा ऑनलाइन और ऑफलाइन

उसने नौकरी के नाम पर मुस्ताक अहमद, अकमल खान के खातों में रकम जमा करा दी। रकम जमा कराने के बाद अन्य व्यक्तियों से भी उसकी बात कराई। रकम जमा कराने के बाद भी जब सुंदर लाल को नौकरी नहीं लगी तो उसने रूपेश को फोन करके अपना पैसा वापस मांगा लेकिन आरोपित में रकम वापस करने से मना कर दिया।

उसके बाद पीड़ित ने सिविल लाइंस कोतवाली पुलिस से गुहार लगाई। पुलिस ने इस मामले में कार्रवाई करना शुरू कर दिया। उसके बाद सिविल लाइंस कोतवाली प्रभारी निरीक्षक राजेश साह ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर पुलिस ने रुपेश, दीपू, गायत्री, गरुदयाल, बोकराह थाना मझेलिया, चंपारण बिहार और मिटू पटेल, मुस्ताक अहमद, अंजू देवी, अकमल खान के दो बुजुर्ग, थाना जिला सिवान बिहार के रहने वाले इन सभी पर मुकदमा करवा दिया गया है।

Related posts

Leave a Comment