पिथौरागढ़

पिथौरागढ़ : जिला स्तरीय वनाग्नि सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न

जिला स्तरीय वनाग्नि सुरक्षा समिति की बैठक संपन्न

पिथौरागढ़-

जिलाधिकारी डॉ आशीष चौहान ने बुधवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिला स्तरीय वनाग्नि सुरक्षा समिति की बैठक ली। जिसमें वन संपदा को आग से बचाने के लिए प्रभावी रणनीति के साथ कार्य करने के निर्देश दिए गए। जिलाधिकारी ने आगामी फायर सीजन के लिए पूरी तैयारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि जिन स्थानों पर सड़क निर्माण का कार्य चल रहा है वहां आसपास पिरुल की सफाई कराई जाए। जिले के सभी प्रोन एरिया में फायर कन्ट्रोल के लिए अभी से तैयारी रखें। उन्होंने कहा कि वनाग्नि की घटना से किसी भी दशा में जानमाल का नुक़सान न हो इसका विशेष ध्यान रखा जाय। कहा कि वन विभाग को फायर फाइटिंग के लिए आपदा राहत कोष से सभी बेसिक उपकरणों की आपूर्ति की जाएगी।
उप वन संरक्षक ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि जनपद में 7098 वर्ग किमी रिजर्व फारेस्ट तथा 2200 वर्ग किमी सिविल फारेस्ट है। वनाग्नि से निपटने के लिए इस वर्ष 77 क्रू-स्टेशन बनाए गए हैं। उन्होंने बताया कि गैस गोदाम, पेट्रोल पम्प, छानियों, बगीचों, घरों के आसपास 15 मीटर की परिधि में नियमित सफाई रखने तथा पिरुल जंगल के आसपास वाहन पार्किंग ना करने हेतु लोगों को जागरूक किया जा रहा है।
इस अवसर पर डीएफओ कोको रोसे, ईको टास्कफोर्स के अधिकारी पियूष शर्मा तथा वीसी के माध्यम से सभी एसडीएम व वन क्षेत्राधिकारी उपस्थित थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!