देवभूमि न्यूज़

ऋषिकेश: सौंग नदी में बहा मुंबई निवासी कोचिंग सेंटर संचालक, शव बरामद 

ऋषिकेश के छिद्दरवाला में सौंग नदी में महाराष्ट्र का एक व्यक्ति बह गया है। स्थानीय लोगों ने इसकी सूचना पर मौके पर पहुंची थाना रायवाला पुलिस और एसडीआरएफ ढालवाला की टीम ने कड़ी मशक्कत के बाद शव को बरामद कर नदी से बाहर निकाला। व्यक्ति प्रकृति आधारित जीवन की शिक्षा के लिए कार्य करने वाली एक प्रगति संगम में कार्यक्रम समन्वयक के पद पर कार्य कर रहा था।

रायवाला थानाध्यक्ष भुवनचंद्र पुजारी ने बताया कि सोमवार शाम सुल्तान चरनिया (48) पुत्र सदुद्दीन चरनिया, निवासी थाने विरार, वेस्ट बसई, महाराष्ट्र, मुंबई चार-पांच बच्चों के साथ सौंगनदी तट पर नहा रहा था। इस दौरान उनमें से एक बच्ची एश्वर्या का अचानक पैर फिसल गया और वह नदी के तेज बहाव में बह गई। उसे बचाने के चक्कर में सुल्तान आगे बढ़ गया। लेकिन वह भी नदी के तेज बहाव में बह गया। इस दौरान अन्य बच्चों में चीखपुकार मचनी शुरू हो गई। बच्चों की चीख पुकार सुन आसपास के लोग वहां पर एकत्रित हो गए।

ऋषिकेश: आज से शुरू हुआ गंगा में राफ्टिंग का रोमांच भरा सफर, राफ्ट संचालकों के चेहरे खिल उठे

लोगों ने कड़ी मशकत के बाद एश्वर्या को बचा दिया। लेकिन सुल्तान नदी के तेज बहाव में बह गया। एसडीआरएफ के मदद से घटनास्थल से करीब दो किमी दूर शव बरामद हुआ है। थाना पुलिस ने शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए एम्स में भेज दिया है। थाना पुलिस ने बताया कि मृतक छिद्दरवाला में प्रगति संगम सेंटर का संचालन करता था। सेंटर में ध्यान, रेकी, विपसना, योगा, बर्ड व बटर फ्लाई वॉचिंग, वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफी, इको सस्टेंनेबल आर्किटेक्चर, सस्टेंनेबल एर्गीकल्चर, ऑर्गेनिक फूड कुकिंग, फिल्म मेकिंग, नेचर आर्टस, एजुकेशन टूर, जीव विद्या, क्षेत्री आबादी से संवाद विषय की कोर्सेस कराए जाते हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!